Wednesday, June 16, 2021

जीटी रोड पर डिवाईडर बनना हुआ शुरू , डीएम के प्रयासों से मिलेगी जाम से राहत । Gt Road Divider Construction

करोना के अत्याचार, बारिश से बदहाली और नगर निगम सासाराम के मृत सिस्टम से फैली चारो तरफ नकारात्मकता और उदासी के बीच एक राहत...

Proud

मिशाल : आर्थिक तंगी से घर पर रह कर बने अधिकारी, तो कोई नौकरी करते हुए भी निकाल लिया BPSC 2021 Result

सिविल सर्विस की तैयारी करने के लिए उनके पास इतना पैसा नहीं था कि वो बाहर जा कर किसी अच्छे कोचिंग से शिक्षा प्राप्त कर सकें BPSC 2021 Result

सासाराम के युवाओं का BPSC में जलवा बरकरार , कोई बना SDO तो कोई रेवेन्यू अधिकारी तो कोई सप्लाई इंस्पेक्टर | 64th BPSC Sasaram

64 वी बिहार लोक सेवा आयोग की फाइनल रिजल्ट में सासाराम के कई युवाओं ने अपने काबिलियत का लोहा मनवाया और सफलता हासिल किया 64th BPSC Sasaram

Tour & Travel

Rohtas

मां तुतला भवानी हैंगिंग ब्रिज का आज हुआ उद्घाटन, अब जा सकेंगे आम नागरिक ,मन्दिर भी खुल गया

आज मंगलवार 22 सितम्बर 2020 को जिला रोहतास के मां तुतला भवानी धाम में नवनिर्मित हैंगिंग ब्रिज का उद्घाटन बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के द्वारा संपन्न हुआ । वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उद्घाटन समारोह को संपन्न किया गया । इस मौके पर डीएफओ सहित कई कनी अधिकारी भी मौजूद रहें ।

Stay Connected

45,000FansLike
3,000FollowersFollow
500FollowersFollow
300SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Make it modern

Latest Reviews

History

सासाराम के इस्लाम शाह सुरी ने ग्वालियर से चलाया उत्तर भारत का सल्तनत, शेरशाह सूरी का वंश आगे बढ़ाया | Islam Shah Suri

शेरशाह सूरी के मृत्यु के बाद उनका पुत्र इस्लाम शाह सुरी उत्तर भारत के गद्दी का उत्तराधिकारी बना । इस्लाम शाह का वास्तविक नाम जलाल खान था । उसने आठ वर्ष (1545–53) उत्तर भारत पर शासन किया Islam Shah Suri

सासाराम के शहीद डीएफओ संजय सिंह की दास्तां 20 वर्ष बाद भी रुला देती है । नक्सली और माफिया थर थर कांपते थें ।...

शहीद संजय सिंह नक्सलियों व माफियाओं के जानी दुश्मन माने जाते थे । जांबाज अधिकारी आ‍ज भी नागरिकों के हृदय के केंद्र में बसे हुए हैं । 15 फरवरी 2002 को रेहल गांव में संजय सिंह को नक्सलियों ने उनके शरीर पर बेरहमी से तबातोड़ 9 गोलियां दाग कर शहीद कर दिया Martyred Dfo Sanjay Singh

सासाराम के वीर योद्धा आन बान और शान ,अंग्रेजी तोप से शहीद बाबू निशान सिंह

सासाराम के बड्डी गांव निवासी थें शहीद बाबू निशान सिंह । अंग्रेजों ने गिरफ्तार करने के लिए अपनी सेना को आरा भेजा । बाबू कुंवर सिंह के मौत के बाद निशान सिंह का बाहुबल और उनकी अवस्था अब पहले की तरह नहीं रही । उन्हें सासाराम के गौरक्षणी मुहल्ले में जंगलों के बीच तोप के मुंह पर बांधकर गोली से उड़ा दिया गया ।

सासाराम में धधकी थी अगस्त क्रांति की ज्वाला – Sasaram Ki Galiyan

क्रांति की ज्वाला में जब देश में हर तरफ अंग्रेजों के विरुद्ध बगावत का स्वर बुलंद हो रहा था, उस समय सासाराम में भी...
- Advertisement -

Holiday Recipes

बिहार का ठेकुआ विश्वभर में प्रसिद्ध है । ऐसी पकवान दुनिया में कहीं नहीं बनाई जाति है । ग्लोबलाइजेशन के दौर में बिहार के लोग भी देश से निकल कर दुनिया भर में गए, अपने साथ बिहारी संस्कृति की खुशबू भी साथ ले गए । ठेकुआ बिहार से निकल कर ,अब यूरोप के देशों में पहुंच चुका है ।

Food & Taste

Health & Fitness

Architecture

LATEST ARTICLES

error: Content is protected !!