Tuesday, June 18, 2024
HomeSasaram4. Mitti Ki Khushbooएयर फोर्स ने फ्री में युक्रेन से दिल्ली लाया सासाराम के अरुण...

एयर फोर्स ने फ्री में युक्रेन से दिल्ली लाया सासाराम के अरुण को, बिहार सदन में ठहरने की व्यव्स्था | Arun sasaram evacuation ukraine war

अरुण ने आज दोपहर दिल्ली स्थित बिहार भवन में नाश्ता करने के बाद "सासाराम कि गलियां" को फोन पर बताया की रूस के आक्रमण के कारण भय का माहौल बना था । युद्ध के दौरान प्राय: सायरन की आवाज कानों में गूंजती रहती थी । इस दौरान जान जाने एवं घायल होने के भय से बंकर में प्रतिदिन कई कई घंटो तक खड़ा होकर बिताना पड़ता था । यूक्रेन में डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहा सासाराम शहर के तकिया मोहल्ला का अरुण कुमार वर्मा इवानो फ्रैंकविश नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी का छात्र है । भारतीय वायु सेना के विशेष विमान C-17 ग्लोब मास्टर से अरुण आज रात 1 बजे दिल्ली पहुँच चूका है ।

Arun sasaram evacuation ukraine war | Arun evacuation from russia Ukraine war : कभी घर में रहकर माता-पिता के साए के बीच ऐसो-आराम करने वाला अरुण पिछले कई दिनों से यूक्रेन में फंसा था। वह जैसे तैसे रोमानिया पहुंचा , और अपने वतन हिंदुस्तान वापस आने की उम्मीद में दिन रात ईश्वर से प्रार्थना करने लगा ।

सासाराम के कितने छात्र हैं ?

अपने भाई बहनों की सुविधा के लिए डाला गया "सासाराम कि गलियां" का न्यूज़
अपने भाई बहनों की सुविधा के लिए डाला गया “सासाराम कि गलियां” का न्यूज़ का स्क्रीनशॉट 

हमने अरुण से पूछा की आपके साथ सासाराम के कितने छात्र हैं ? अरुण ने बताया की जब हम यूक्रेन में फंसे थें  तब  हमें “सासाराम की गलियां” के न्यूज़ से ही मालूम चला था की सासाराम और रोहतास जिला के कुल 7 छात्र यूक्रेन में फंसे हैं  । आपके द्वारा डाले गए लिस्ट में हमारा भी नाम था  । मैं Sasaram Ki Galiyan का बहुत पुराना सदस्य हूँ  । आपके ऑथेंटिक, पब्लिक फ्रेंडली , बेबाक और स्वतन्त्र पत्रकारिता का मैं कायल हूँ  ।

युक्रेन में एमबीबीएस का छात्र है अरुण

अरुण कुमार वर्मा
अरुण कुमार वर्मा

यूक्रेन में डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहा सासाराम शहर के तकिया मोहल्ला का अरुण कुमार वर्मा इवानो फ्रैंकविश नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी का छात्र है । अरुण एमबीबीएस तीसरे वर्ष का छात्र है । वह वर्ष 2019 में मेडिकल करने युक्रेन गया था ।

आपको बताते चलें की अरुण ने सर्वोदय निकेतन स्कूल, रामगढ़ झारखंड से मैट्रिक किया था और श्री चैतन्य विद्या निकेतन विशाखापत्तनम से इंटर किया था ।

हर बिहारी छात्र की तरह अरुण को भी पढ़ाई लिखाई के सिलसिले में घर से दूर रहने का अच्छा खासा अनुभव है ।

माता पिता और रिश्तेदार चिंतित

रोमानिया एयरपोर्ट पर अरुण एवं अन्य हिंदुस्तानी
रोमानिया एयरपोर्ट पर अरुण एवं अन्य हिंदुस्तानी

अरुण के पिता जी राम नारायण सिंह कुशवाहा , माता और रिश्तेदार अरुण को लेकर काफी चिंतित और परेशान हैं । परिजनों ने बताया कि बेटा को डॉक्टर बनाने एवं असहायों की सेवा करने की इच्छा के कारण यूक्रेन के फ्रैंकविश नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी में नामांकन कराया था ।

युक्रेन में कहर बरपा रही रूस की बैलिस्टिक मिसाइलें
युक्रेन में कहर बरपा रही रूस की बैलिस्टिक मिसाइलें

तब से वह वहां रहकर अच्छे से पढ़ाई कर रहा था । यूक्रेन एवं रूस में तनाव के बीच यह आभास नहीं था, कि मामला युद्ध तक भी पहुंच जाएगा ।

हिंदुस्तानियों के लिए प्रार्थना

रोमानिया एयरपोर्ट पर अरुण एवं अन्य हिंदुस्तानी
रोमानिया एयरपोर्ट पर अरुण एवं अन्य हिंदुस्तानी

पूरा परिवार घर का बेटा एवं फंसे हुए ने सभी भारतीय छात्रों की सलामती के लिए ईश्वर से प्रार्थना कर रहे हैं।  तकिया मोहल्ला के लोगों ने भी बेटा की सलामती एवं जल्द सासाराम शहर वापसी की कामना कर रहे हैं । इस दौरान पूरा परिवार टीवी के समीप बैठकर यूक्रेन की स्थिति का अवलोकन करते हैं।

अरुण ने “सासाराम कि गलियां” से क्या कहा ?

अरुण में कैमरे में कैद हुई युक्रेन में कहर बरपा रही रूस की बैलिस्टिक मिसाइलें
अरुण में कैमरे में कैद हुई युक्रेन में कहर बरपा रही रूस की बैलिस्टिक मिसाइलें

अरुण ने आज दोपहर दिल्ली स्थित बिहार भवन में नाश्ता करने के बाद “सासाराम कि गलियां” को फोन पर बताया की रूस के आक्रमण के कारण भय का माहौल बना था। बाजार बंद होने के कारण खाने-पीने का संकट भी गहरा गया था ।

रोमानिया एयरपोर्ट पर अरुण एवं अन्य हिंदुस्तानी
रोमानिया एयरपोर्ट पर अरुण एवं अन्य हिंदुस्तानी

पीने के पानी के लिए जान जोखिम में डालकर घंटों लाइन में खड़ा होना पड़ता था । अरुण ने बताया कि अधिकांश लोग बिस्किट खाकर जीवन जीने को मजबूर थें , जो हिन्दुस्तानी अभी भी युक्रेन में हैं वो बेचारे भी यही खा रहे हैं ।

रोमानिया स्थित शेल्टर हाउस में शरण लिए अरुण और अन्य हिंदुस्तानी
रोमानिया स्थित शेल्टर हाउस में शरण लिए अरुण और अन्य हिंदुस्तानी

युद्ध के दौरान प्राय: सायरन की आवाज कानों में गूंजती रहती थी । इस दौरान जान जाने एवं घायल होने के भय से बंकर में प्रतिदिन कई कई घंटो तक खड़ा होकर बिताना पड़ता था ।

रोमानिया स्थित शेल्टर हाउस में शरण लिए अरुण और अन्य हिंदुस्तानी
रोमानिया स्थित शेल्टर हाउस में शरण लिए अरुण और अन्य हिंदुस्तानी

इस दौरान भय के कारण नींद एवं भूख दोनों समाप्त हो गई थी । दिन प्रतिदिन यूक्रेनी सेना के दुर्व्यवहार एवं भारतीय एंबेसी के आश्वासन से स्थानीय छात्रों का मनोबल भी टूट रहा है।

कल दोपहर रोमानिया से एयरलिफ्ट किया था इंडियन एयर फोर्स ने

अरुण के कैमरे में कैद बुर्चारेस्ट,रोमानिया हवाई अड्डा पर खड़ा इंडियन एयर फोर्स का C-17 ग्लोब मास्टर विमान
अरुण के कैमरे में कैद बुर्चारेस्ट,रोमानिया हवाई अड्डा पर खड़ा इंडियन एयर फोर्स का C-17 ग्लोब मास्टर विमान

अरुण ने फोन पर “सासाराम कि गलियां” को बताया की कल रोमानियन समय अनुसार लगभग 2 बजे भारतीय वायु सेना ने उसे रोमानिया से एयरलिफ्ट किया था । लगभग 7 घंटो की सफर के बाद दिल्ली पहुंचा अरुण । आपको बताते चलें की अरुण के साथ कई अन्य छात्र भी थें ।

भारत सरकार ने फ्री में लाया

बिहार सदन में खाना खाते बिहारी बच्चे
बिहार सदन में खाना खाते बिहारी बच्चे

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स देखने के बाद आम नागरिकों की तरह भाड़ा के मुद्दे पर हम लोग भी कन्फ्यूज थें ,इसलिए फोन डिस्कनेक्ट होने के बाद भी अरुण से इसके बारे में अलग से लिख कर पूछ लिए ।

अरूण द्वारा भेजी गई बुर्चारेस्ट एयरपोर्ट ,रोमानिया की तस्वीर
अरूण द्वारा भेजी गई बुर्चारेस्ट एयरपोर्ट ,रोमानिया की तस्वीर

अरुण ने हमें बताया की उसे भारत सरकार ने रोमानिया से भारत तक फ्री में लाया है । और यही नहीं दिल्ली से पटना तक भी उसे फ्री एयर टिकट मिला है । पटना से सासाराम भी फ्री में ही आएगा , जिला प्रशासन इसमें मदद करेगा ।

सरकार के लिए पॉजिटिव फीडबैक

बिहार सदन में खाना खाते अरुण और अन्य बिहारी बच्चे
बिहार सदन में खाना खाते अरुण और अन्य बिहारी बच्चे

अरुण ने भारत सरकार, राज्य सरकार , प्रधानमन्त्री और मुख्यमंत्री और जिला प्रशासन रोहतास के प्रति आभार जताया है । उसने कहा की केंद्र सरकार फ्री में वतन ले आई , जबकि बिहार सरकार ने अपने बच्चों के लिए बिहार भवन में ठहरने का व्यवस्था किया है ,खाना भी दे रही है ।

रात एक बजे दिल्ली पहुंचा

भारतीय वायु सेना के विशेष विमान C-17 ग्लोब मास्टर से अरुण आज रात 1 बजे दिल्ली पहुँच चूका था । लगभग 2 बजे रात में www.SasaramKiGaliyan.Com और अरुण के बिच बात चित शुरू हुई । अरुण अपना दुःख दर्द और अनुभव बता रहा था ।

बिहार सदन में बच्चों के लिए नाश्ता
बिहार सदन में बच्चों के लिए नाश्ता

लगभग 4 बजे तक हमलोगों की लम्बी बात चित हुई । उसने बताया की भैया अब हमे बिहार भवन ले जाया जा रहा है । वही पर बिहारी छात्रों की रुकने की व्यवस्था है । दिन में फोन पर बात करने की सहमति बनी । 

आज दिल्ली से पटना आएँगे

दिल्ली से पटना आने के लिए अरुण का एयर टिकट
दिल्ली से पटना आने के लिए अरुण का एयर टिकट

अरुण ने बताया की आज उन्हें दिल्ली से पटना लाया जाएगा । वायु मार्ग से पटना आएँगे । इसके लिए उन्हें निशुल्क एयर टिकट उपलब्ध कराया गया है । उन्होंने बताया की आज शाम 3:45 बजे नई दिल्ली से पटना के लिए फ्लाइट है ।

यूक्रेन में कहाँ रहते थें ? 

युक्रेन में अरुण इसी मोहल्ला में रहता था
युक्रेन में अरुण इसी मोहल्ला में रहता था

अरुण वर्मा ने बताया की वह यूक्रेन के टोकारसा स्ट्रीट 10 बी में रहते थें ।

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Sasaram Ki Galiyan
Sasaram Ki Galiyanhttps://www.sasaramkigaliyan.com
Sasaram Ki Galiyan is a Sasaram dedicated Digital Media Portal which brings you the latest updates from across Sasaram,Bihar and India.
- Advertisment -spot_img

Most Popular

error: Content is protected !!