Wednesday, June 19, 2024
HomeSasaram4. Mitti Ki Khushbooनहाय खाय के साथ शुरू हुआ छठ 2020 | घाट तैयार ...

नहाय खाय के साथ शुरू हुआ छठ 2020 | घाट तैयार | मोदी का वादा बना जुमला, प्रशासन के सख्त आदेश घर पर करें छठ | पूर्व विधायक ने सरकार से किया घाट पर छठ के लिए मांग | अंदर पढ़े डिटेल

छठ 2020 : आज से लोक आस्था का महापर्व छठ महापर्व शुरू हो चुका है । आज छठ का पहला दिन है, यानी नहाय खाय है । इसके बाद खरना होगा । 20 नवंबर को दुनिया भर में अस्ताचलगामी सूर्य को पहला अर्घ्य अर्पित किया जाएगा।
छठ के आखिरी दिन 21 नवंबर को प्रात:काल उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देकर पारण किया जाएगा। चार दिवसीय छठ महापर्व पर सूर्यदेव के साथ माता षष्ठी देवी की भी पूजा-अर्चना का परंपरा है।

छठ 2020 की तैयारियां पूरी

gaurakshni sasaram chath 2020
gaurakshni-sasaram-chath-2020

छठ पूजा में साफ सफाई का विशेष महत्व है । नदी ,तलाब ,नहर में छठ करने की अभिन्न परम्परा है ।

gaurakshni chath 2020
Chath-Prepration-gaurakshni

लालगंज नहर पर त्रिलोचन घाट कुराईच साफ सफाई की व्यवस्था दुरुस्त की जा रही है । नहर में पानी आ चुका है ।

durgakund chath fazalganj sasaram
chath-durgakund-fazalganj-sasaram

न्यू स्टेडियम फजलगंज स्थित दुर्गाकुंड में छठ की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं । करपुरवा स्थित तालाब में भी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं । अन्य जगहों पर भी युद्ध स्तर से काम चल रहा है ।

20201118 161415
Chath prepration durgakund ghat

पूजा कमिटी ने साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा है ।


daksha
**Advertisement

प्रशासन ने घर पर छठ मनाने का आदेश दिया है

रोहतास जिला प्रशासन ने करोना के कारण घर पर ही छठ मनाने का आदेश दिया है ।


banner


गरीबों पर डबल मार | Chath 2020

करोना के मार से पस्त हुए निचले तबके के लोग , जो छठ पूजा में मेला के अंदर दुकानें लगाकर आर्थिक स्थिति कुछ ठीक करने के आस लगाए बैठे थे , उनके मंसूबों पर पानी फिरता नजर आ रहा है।


aura add
**Advertisement

पूर्व विधायक ने अपने ही सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

ex mla jawahar prasad on chath 2020
Ex-mla-jawahar-prasad-on-chath-2020

सासाराम से 5 बार भाजपा विधायक रह चुके जवाहर प्रसाद ने एक निजी चैनल पर बिहार सरकार से छठ पूजा के लिए घाटों को साफ कराने और , घाट पर ही सोशल डिस्टेंसिंग के साथ प्रशासन के देख रख में नियमो के साथ छठ पूजा कराने का मांग किया है ।

जवाहर प्रसाद ने बिहार सरकार से सवाल पूछा

पूर्व विधायक ने सरकार से पूछा कि , अभी चुनाव में रैलियों के अंदर भीड़ जुटाते समय करोना के नियम कहां गए थे ?
जब करोना में चुनाव हो सकता है तो छठ क्यूं नहीं ?

प्रधानमंत्री का वादा हुआ झूठा …बन गया जुमला

modi-chath-2020-bihar-election
modi-chath-2020-bihar-election

Chath 2020 : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार चुनाव के दौरान, छपरा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बिहार के महिलाओं को छठ करने का बात कहा था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि ” मां आप छठ पूजा की तैयारी करो, चिंता करने के लिए आपका बेटा दिल्ली में बैठा है” । मोदी के इस वादे से बिहार के लोग छठ करने के लिए निश्चिंत हो गए थें ।

लेकिन , प्रशासन के द्वारा घर के अंदर छठ करने के आदेश को सुनकर , लोग हैरान हैं । नाराज लोग कह रहे है कि, चुनावी फायदे के लिए प्रधानमंत्री बिहारवासियों के आस्था और भावनाओं के साथ खेल करके चले गए।

समर्थक उतरे मोदी के बचाव में

समर्थक इस मुद्दे पर कन्नी कटाते नजर आ रहे हैं । वो कुछ भी बोलने से बच रहे हैं । देश ,समाज ,संस्कृति और पार्टी,नेता से वफादारी को लेकर असमंजस की स्थिति है ।

आम आदमी और जनता नाराज

keerana
**Advertisement

न्यूट्रल जनता जो कभी किसी नेता या पार्टी का समर्थक नहीं होती, जो सिर्फ नागरिक हितों की बात करती है, जो सिर्फ और सिर्फ अपने संस्कृति, देश और समाज के प्रति वफादार रहती है, नेताओं और पार्टियों के प्रति नहीं । वैसे लोग चुनाव के समय प्रधानमंत्री के झूठे वादे और प्रशासन के असली आदेश से नाराज़ हैं ।

उनका कहना है कि, छठ तो बहते पानी में होता है । किसी के घर के अंदर नदी , नहर, तलाब नहीं है । अगर दूसरे तरीके से छठ किया जाए तो , फिर स्वरूप ही बदल जाएगा ।

वो छठ थोड़े रहेगा । ठीक उसी तरह जैसे दिन की पहचान सूर्य और रात का पहचान चंद्रमा से होता है , वैसे ही छठ का पहचान नदी, नहर ,तलाब से है ।

अगर छठ पर यही करना था तो , प्रधानमंत्री ने झूठ बोल कर लोगो के आस्था और भावनाओं के साथ खिलवाड़ क्यूं किया ? एक सच्चा आम आदमी नेता और पार्टी के प्रति वफादार नहीं होता, बल्कि अपने संस्कृति, समाज और देश के लिए वफादार होता है ।


IMG 20200918 WA0010 compress44 1
**Advertisement

क्या है प्रशासन के छठ 2020 आदेश ?

dm sasaram chath shanti samiti meeting
dm-sasaram-chath-shanti-samiti-meeting

सोमवार को स्थानीय समाहरणालय परिसर में डीएम पंकज दीक्षित ने लोकआस्था के महापर्व छठ के आयोजन को ले कर कई बातें कहा । उन्होंने कहा कि नदी, तालाबों, नहरों व अन्य सार्वजनिक स्थलों पर सामूहिक रूप की बजाए घर पर छठ व्रत करने व अ‌र्घ्य देने के लिए प्रेरित करना है ।

मंगलवार को आयोजित शांति समिति के बैठक में कहा गया कि, अपने क्षेत्र के एसडीएम से अनुमति लेने के बाद ही पूजा समिति छठ व्रत का आयोजन करेंगे। इसके लिए उनके घाटों पर व्रत करने वाले व्रतियों की सूची भी एसडीएम को उपलब्ध करानी होगी । साथ ही पूजा समिति के सदस्यों को भी घाटों की बजाए व्रतियों को घर पर ही अ‌र्घ्य देने के लिए प्रेरित करना होगा ।

पानी में लोग डुबकी न लगाए और घाट पर भीड़ नहीं हो इसके लिए घाटों की बैरिकडिग, सैनिटाइजेशन समेत सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किया जाएगा। एसडीएम, सीओ, बीडीओ, एसडीपीओ व थानाध्यक्ष इन नियमों को पालन करवाएंगे ।

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Sasaram Ki Galiyan
Sasaram Ki Galiyanhttps://www.sasaramkigaliyan.com
Sasaram Ki Galiyan is a Sasaram dedicated Digital Media Portal which brings you the latest updates from across Sasaram,Bihar and India.
- Advertisment -spot_img

Most Popular

error: Content is protected !!